Understanding The Varna ( Caste ) System

चातुर्वर्ण्यम मया सृष्टं गुणकर्मविभागशः ! तस्य कर्तारमपि मां विद्ध्यकर्तारमव्ययम !!    !! भागवद गीता ४:१३ !!  ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शुद्र, इन चार वर्णों का समूह, गुण और कर्मों के विभागपूर्वक मेरे द्वारा रचा गया है (इस प्रकार) उस (सृष्टि रचनादि कर्म) का कर्ता होने पर भी मुझ अविनाशी परमेश्वर को (तू वास्तव में) अकर्ता… Read More Understanding The Varna ( Caste ) System